कैसे बनाए अपने लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप को परफेक्ट


By: Admin on: Monday,11 September 2017|12:40:45



कैसे बनाए अपने लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप को परफेक्ट


सभी जानते हैं कि रिलेशनशिप आसान नहीं हैं। खासकर जब आप लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में हो। लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में कई तरह की दिक्कतें सामने आती हैं। नेटवर्क प्रौब्लम, टाइम प्रोब्लम, गलतफहमी और भी कई तरह की ऐसी ही दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। यहां तक की कई बार इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रौब्लम की वजह से चैट करते वक्त एक ही बात को बार-बार कहने से आप इरिटेट हो जाते हैं और इसी बात को लेकर आप दोनों के बीच बहस भी काफी बढ़ जाती है और इस झगड़े की वजह से आपका दिमाग भी काम नहीं करता है। लेकिन क्या आपने कभी इस झगड़े को खत्म करने के  लिए सोचा है? क्या आपने कभी ये सोचा है कि कोई जादूई शक्ति से आपकी सारी परेशीनियों को आसान बना दें।


1. ब्रेक लेना भी जरुरी


ब्रेक लेने से मतलब ये है कि आप अपने रिलेशनशिप से ब्रेक नहीं बल्कि अपने फोन कॉल से थोड़ा ब्रेक जरुर लें। अगर आपके अपने लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में बातों को लेकर चिड़चिड़े हो गए हैं तो कम से कम 15 मिनट का समय खुद को दें और इस समय का पूरा उपयोग अपने आप को शांत करने के लिए और बातों को समझने की कोशिश करें।


2.शेड्यूल तय कर लें


अगर आप किसी दूसरी बातों पर मशगूल हो गए हैं और आपको ये एहसास होता है कि जब भी आप फोन पर बात करते हैं तो हर समय आप दोनों के बीच सिर्फ झगड़ा ही हो रहा है तो आपके रिलेशनशिप के लिए अच्छा होगा कि अपने मूड को खराब करने के बजाय एक ऐसा टाइम डिसाइड कर लें जिस वक्त दोनों ही फोन पर बात करने के इच्छुक हों। और सिर्फ टेक्स्ट न करें, फोन करके बातों को सुलझा लें।


3.एक दूसरे के शेड्यूल को समझे


आप एक दूसरे की रिस्पेक्ट तो करते ही हैं लेकिन अगर आप दोनों को एक दूसरे के शेड्यूल को भी समझना जरुरी है। आपको हमेशा इस बात का ध्यान रखना होगा कि आपके काम की कोई भी बातें आपके लड़ाई के बीच का कारण न बने।


4.सोचें नहीं, कहें


पार्टनर के बीच गलतफहमी का ये सबसे बड़ा कारण होता है। कहा जाता है कि ट्रांसलेशन के वक्त आधे से ज्यादा बातें छूट जाती हैं ठीक उसी तरह लॉन्ग डिस्टेंस में अगर आपका पार्टनर आपसे कुछ कहता है तो आप पूरी बातें सुने बिना ही तरह-तरह की बातें सोचने लग जाते हैं और उस बात का कुछ और ही मतलब निकालना शुरु कर देते हैं तो हम आपको बता दें कि पार्टनर के प्रति किसी नतीजे पर पहुंचने से पहले पूरी बातें सुने कि आखिर वे कहना क्या चाहते थे।


5. हर वक्त ब्लेम न करें


अगर आप रिलेशनशिप में अपने पार्टनर पर हमेशा ”तुम ही ऐसा करते हो मैं नहीं“ जैसा ब्लेम करते हैं तो हम आपको बता दें कि रिलेशनशिप को बरकरार रखने के लिए आप अपने पार्टनर से इस तरीके का ब्लेम लगाना बंद कर दें।





Name  

Email ID
Comments
 




ट्रेडिंग न्यूज़